Connect with us

Crypto News

भारतीय क्रिप्टो युजर्स के लिए बुरी खबर – Coinbase Halts all Operations in india

Published

on

Coinbase Halts all Operations in india

Coinbase India : अगर क्रिप्टो करेंसी में आपका भी पैसा लगा हुआ है या क्रिप्टो से जुड़ी खबरे से अपडेट रहना चाहते हैं तो आपके लिए एक बुरी खबर है! खासकर भारतीय क्रिप्टो युजर्स के लिए निराशा वाली खबर हैं!

Coinbase की भारत में सर्विस बंद

ग्लोबल क्रिप्टो एक्सचेंज कॉईनबेस (Coinbase) भारत में अपनी सर्विस बंद करने जा रहा है क्रिप्टो एक्सचेंज ने अपने यूजर्स को मेल करके इसके बारे में जानकारी भी दी है!

Coinbase ने मेल करके अपने कस्टमर को 25 सितंबर तक अपने पैसे निकालना की सलाह दी है, 25 सितंबर के बाद भारत में कॉयनबेस की वेबसाइट और अप को यूजर्स एक्सेस नहीं कर पाएंगे !

यदि कोइ कस्टमर क्रिप्टो को नहीं बेचना चाहते तो वे अपने अकाउंट को अन्य किसी क्रिप्टो एक्सचेंज से लिंक कर सकते हैं इसके साथ ही अपने पैसे को भी उसे क्रिप्टो एक्सचेंज अकाउंट में ट्रांसफर कर सकते हैं!

पिछले साल भारत आने का किया था ऐलान

पिछले साल एक्सचेंज के फाउंडर ब्रेन आर्मस्ट्रांग ने भारत में एक्सचेंज की सर्विस को ऑफिशल तोर पर लॉन्च करने के लिए भारत आए थे उन्होंने घोषणा की थी की भारत में प्लेटफॉर्म यूजर्स को यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस यानी UPI के मध्य से पैसे एड करने की अनुमति मिलेगी!

हालांकि इस घोषणा के तुरंत बाद नेशनल पेमेंट कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (NPCI) ने सभी क्रिप्टो एक्सचेंज से यूपीआई को बैन कर दिया था!

इसे भी पढें  बिटकॉइन की कीमत 2023 में $250,000 जाएगी - टिम ड्रैपर की भविष्यवाणी

G20 में भी क्रिप्टो पर बडा़ फैसला

इस बार जी-20 पर भी क्रिप्टो पर एक बड़ा फैसला लिया गया था, घोषणा पत्र में IMF और FSB ने क्रिप्टो को प्रतिबंध करने के बजाय उसे रेगुलेट करने की वकालत की थी उसको मंजूर कर लिया गया था!

क्या है क्रिप्टोकरेंसी

अब जिन लोगों को क्रिप्टोकरेंसी के बड़े में और जानकारी चाहिए तो बता दें क्रिप्टो ई डिजिटल ई होती है ऑनलाइन मध्य से दुनिया भर में इसका लेनदेन किया जाता है! इसे रेगुलेट करने के लिए इनस्क्रिप्शन टेक्नोलॉजी इस्तेमाल की जाति है!

इसे कोई केंद्रीय बैंक क्रेडिट इंस्टीट्यूशन या कोई ई पैसा संस्थान जारी नहीं करता है इसे बनाने वाले ही जारी करते हैं और इसे नियंत्रण करते हैं दुनिया की कई रेगुलेटरी संस्थाएं प्रमुख क्रिप्टो ई बिटकॉइन में ट्रेडिंग के खिलाफ चेतावनी दे चुकी है!

जबकि कुछ देश इसके समर्थन में है तो 2017 में जापान ने बिटकॉइन को वेध करेंसी का दर्ज दिया था भारत ने क्रिप्टोकरंसी को बैन करने के बजाय सख्ती से उसे रेगुलेट करने का रास्ता अपनाया है भारत में क्रिप्टो ई को बन नहीं किया गया है लेकिन भारी भरकम टैक्स लगा दिया गया है!

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Advertisement